Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022

Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022: राजस्थान राज्य में महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने हेतु राजस्थान सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाओ को शुरू किया जाता है। इन योजनाओ के माध्यम से राज्य की महिलाओ को प्रशिक्षण, समाज में सम्मान दिलाने, दैनिक आवश्यकताओं की पूर्ति करने से लेकर उद्योग करने हेतु आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से राजस्थान सरकार द्वारा आरम्भ की गई राजस्थान महिला निधि योजना के बारे में बताने जा रहे है, इस योजना को महिला समानता दिवस पर राजस्थान सरकार द्वारा अपने राज्य की महिलाओं को उद्योगों से जोड़ने हेतु 26 अगस्त 2022 को आरंभ किया गया है। राजस्थान के मुख्यमंत्री जी के द्वारा Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022 का लोकार्पण करते हुए सामजिक तथा आर्थिक उन्नति हेतु आरंभ किया गया है।

Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022

Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022

26 अगस्त 2022 को शुक्रवार के दिन राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा महिला निधि योजना राजस्थान 2022 का लोकार्पण किया गया है, राजस्थान ग्रामीण आजीविका विकास परिषद के जरिए से इस योजना को आरम्भ करने की घोषणा बजट 2022-23 के दौरान की गई थी। भारत देश के तेलंगाना राज्य के बाद राजस्थान दूसरा ऐसा राज्य है जहां इस योजना को आरम्भ किया गया है।

इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा स्वयं सहायता समूहों को उद्योग करने हेतु तथा उस उद्योग को आगे बढ़ाने के लिए  ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। इसके अतिरिक्त Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022 के अंतर्गत 40000 से अधिक रुपए का ऋण 15 दिन में तथा 40000 रुपए तक का ऋण  48 घंटों में आवेदक नागरिको के बैंक खातों में प्रदान कर दिया जाएगा।

वर्तमान समय में 2 लाख 70 हजार स्वयं सहायता समूह का गठन राजस्थान राज्य के 33 जिलों में किया जा चुका है इसके अंतर्गत 30 लाख परिवारों को जोड़ा गया है। अब सरकार द्वारा 50000 स्वयं सहायता समूह को सन 2022-23 में गठित करने के प्रस्ताव को जारी किया गया है, इसमें सरकार द्वारा 6 लाख परिवारों को जोड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस हिसाब से राज्य के 36 लाख परिवारों को चरणबद्ध तरीके से इस योजना का लाभ नागरिको की आवश्यकता अनुसार उद्योग करने हेतु प्रदान किया जाएगा।

Overview of Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022

योजना का नाम राजस्थान महिला निधि योजना
आरम्भ की गई मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा
वर्ष 2022
लाभार्थी स्वयं सहायता समूह से जुड़े परिवार
आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन
उद्देश्य उद्योग के लिए ऋण प्रदान करना
लाभ स्वयं सहायता समूह से जुड़े परिवारों को उद्योग के लिए ऋण प्रदान किया जाएगा
श्रेणी राजस्थान सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइट CLICK HERE

राजस्थान महिला निधि योजना का उद्देश्य 

राजस्थान महिला निधि योजना का मुख्य उद्देश्य राजस्थान राज्य की महिला स्वयं सहायता समूह को सुलभ ऋण उद्यमिता हेतु तथा व्यवसाय आगे बढ़ाने के लिए प्रदान करना है। इस योजना को आरम्भ करने का मुख्य उद्देश्य यह भी है कि इसके माध्यम से महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा दिया जाएगा, जिससे राजस्थान राज्य में रोजगार के अवसरों में भी बढ़ोत्तरी हो सकेगी।

इसके अतिरिक्त Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022 के माध्यम से महिला स्वयं सहायता समूहो में मज़बूती आएगी, क्योकि उन्हें इसके माध्यम से बैंको के जरिए से ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। इसके विपरीत इस योजना के माध्यम से ऐसी महिलाएं जो गरीब है, संपत्ति हीन है तथा सीमांत महिलाएं है उन सभी महिलाओ की आय में बढ़ोत्तरी होगी इससे उनकी आर्थिक उन्नति भी हो सकेगी।

इस विषय में राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा महिला समानता दिवस पर आयोजित राज्यस्तरीय समारोह को संबोधित करते हुए कहा गया है कि सिर्फ कानून ही महिलाओ की स्थिति को बेहतर बनाने के लिए पूर्ण नहीं है इसके लिए सामाजिक सोच में बदलाव की भी महिलाओं के साथ समानता हेतु आवश्यकता होती है। इसी दिशा में राजस्थान सरकार द्वारा इस योजना को शुरू किया गया है।

राजस्थान महिला निधि योजना 2022 का लाभ तथा विशेषताएं 

  • महिला समानता दिवस पर आयोजित राज्यस्तरीय समारोह को संबोधित करते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा 26 अगस्त 2022 को इस योजना का लोकार्पण किया गया है।
  • Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022 को आरंभ करने की घोषणा राजस्थान राज्य में बजट 2022-23 के भीतर राजस्थान ग्रामीण आजीविका विकास परिषद के जरिए से की गई थी।
  • स्वयं सहायता समूह को उद्यमिता हेतु तथा व्यवसाय को बढ़ाने के लिए इस योजना के माध्यम से सुलभ ऋण प्रदान किया जाएगा।
  • इसके अतिरिक्त इस योजना के तहत 48 घंटों में 40000 तक का ऋण तथा 15 दिन की समय सीमा में 40000 से अधिक तक का ऋण आवेदक नागरिक के बैंक खाते में भेज दिया जाएगा।
  • वर्तमान समय में 270000 स्वयं सहायता समूह का गठन राजस्थान के 33 जिलों में किया जा चुका है इसके अंतर्गत 30 लाख परिवारों को जोड़ा गया है।
  • अब 50000 और नए स्वयं सहायता समूह का गठन वित्तीय वर्ष 2022-23 में किया जाएगा इसके तहत 6 लाख परिवारों को शामिल करने की बात कही गई है।
  • Mahila Nidhi Yojana Rajasthan के तहत कुल मिलाकर 36 लाख परिवारों को चरणबद्ध तरीके से उनकी ज़रूरत के मुताबिक उद्यमिता हेतु ऋण प्रदान किया जायेगा।
  • यह योजना आर्थिक उन्नति हेतु मील का पत्थर साबित हो सकेगी इस बात को राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा कहा गया है।
  • भारत देश के तेलंगाना राज्य के बाद राजस्थान दूसरा राज्य है जहां पर Mahila Nidhi Yojana Rajasthan 2022 को आरम्भ किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से राजस्थान की सभी महिलाएं आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर तथा सशक्त बन सकेगी जिसके जरिए से वह भविष्य में राज्य के चहुंमुखी विकास मे भागीदारी लेने में सक्षम हो सकेगी।

राजस्थान महिला निधि योजना की पात्रता तथा आवश्यक दस्तावेज 

  • राजस्थान राज्य के महिला स्वयं सहायता समूह, राजस्थान महिला निधि योजना के तहत आवेदन करने हेतु पात्र है।
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो

राजस्थान महिला निधि योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया 

राजस्थान राज्य के महिला स्वयं सहायता समूह जो Rajasthan Mahila Nidhi Yojana के माध्यम से ऋण प्राप्त करने के इच्छुक है, तो उन सभी नागरिको को इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए अभी कुछ समय प्रतीक्षा करनी होगी। क्योकि इस योजना को अभी सिर्फ आरंभ किया गया है, अभी राज्य सरकार द्वारा इस योजना से जुड़ी जानकारी को सार्वजनिक नहीं किया गया है, लेकिन जल्द ही राज्य सरकार द्वारा इस योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया को आरम्भ कर दिया जाएगा। जैसे ही राजस्थान राज्य सरकार द्वारा इस योजना से जुड़ी कोई भी जानकारी सार्वजानिक की जाती है तो हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से सूचित कर देंगे।

Leave a Comment