Solar Rooftop Subsidy Yojana 2022

Solar Rooftop Subsidy Yojana Apply Online & Login @ solarrooftop.gov.in | सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना ऑनलाइन आवेदन, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज व कैलकुलेटर – भारत देश की बढ़ती जनसंख्या के चलते देश में ऊर्जा की मांग भी बढ़ती जा रही है, ऐसी स्थिति में बढ़ रही ऊर्जा की मांग के कारण बिजली उद्योग को चुनौती का सामना करना पड़ रहा है। अब आज के समय में सौर ऊर्जा और ऊर्जा के अन्य नवीकरणीय स्रोतों पर स्विच करने का प्रयास बिजली उद्योग द्वारा किया जा रहा है। इसी स्थिति को देखते अब भारत सरकार के नवीनीकरण ऊर्जा मंत्रालय द्वारा सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना को आरम्भ किया गया है इस योजना के माध्यम से भारत देश के कोई भी नागरिक मुफ्त में अपने घरो की छत पर सोलर पैनल लगवा सकते है और सोलर पैनल की सहायता से फ्री बिजली व अन्य लाभ प्राप्त कर सकते है। इसके अतिरिक्त जो भी नागरिक Solar Rooftop Subsidy Yojana 2022 के तहत अपनी छतो पर सोलर पैनल लगवाते है तो उन्हें सब्सिडी भी प्रदान की जाती है।

Solar Rooftop Subsidy Yojana 2022

Solar Rooftop Subsidy Yojana 2022 

इस योजना के अंतर्गत लगवाएं जाने वाले सोलर पैनल का प्रयोग सूर्य के प्रकाश को इकट्ठा करने हेतु किया जाता है, इस प्रणाली के बहुत से फायदे होते है। इन सभी फायदों में एक फायदा यह भी है कि इन सोलर पैनल के लिए बहुत ही कम जगह की आवश्यकता होती है, और उसके पश्चात ऊर्जा की उत्पत्ति होती है जिसका इस्तेमाल बहुत से कार्यो के लिए किया जाता है। वर्तमान समय में सोलर पैनल पद्धति का प्रयोग महानगरीय क्षेत्रों में अधिक व्यापक हो रहा है तथा अधिकतर लोगो द्वारा बिजली पर अपनी निर्भरता व महंगे बिजली के बिलों के जोखिम को कम करने हेतु इस पद्धति को प्रयोग में लाने की कोशिश की जा रही है। अब भारत सरकार द्वारा सोलर रूफटॉप सिस्टम के विकास को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से Solar Rooftop Subsidy Yojana को आरम्भ किया गया है, इस योजना के माध्यम से सौर ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देने हेतु सरकार द्वारा इस योजना का संचालन किया जा रहा है।

इस कार्यक्रम के अंतर्गत सरकार द्वारा भुगतान करने में ग्राहकों की छतों पर सोलर पैनल लगाने हेतु सहायता की जाएगी। इस कार्यक्रम की सहायता से पूरे देश में निश्चित रूप से अक्षय ऊर्जा के प्रयोग में बढ़ोत्तरी हो सकेगी, तथा इसके माध्यम से ग्राहकों को भी बहुत हद तक लाभ प्राप्त होगा। सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना 2022 को सरकार द्वारा इस द्रष्टिकोण से आरम्भ किया गया है जिससे 2022 तक 1 लाख मेगावाट सौर ऊर्जा प्राप्त की जा सके, जिसमे से 40000 मेगावाट ऊर्जा को रूफटॉप सौर ऊर्जा संयंत्रों के माध्यम से प्राप्त किया जाएगा।

Overview of Solar Rooftop Subsidy Yojana 2022

योजना का नाम सोलर रूफटॉप सब्सिडी स्कीम
आरम्भ की गई ऊर्जा मंत्रालय द्वारा
वर्ष 2022
लाभार्थी भारत के नागरिक
आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन
उद्देश्य देश में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देना
लाभ सब्सिडी प्रदान की जाती है
श्रेणी केंद्र सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइट Solarrooftop.gov.in

सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना का उद्देश्य 

सोलर रूफटॉप सब्सिडी स्कीम का मुख्य उद्देश्य भारत देश के ज़्यादा से ज़्यादा नागरिको के घरो की छतो पर सोलर पैनलों को लगवाना है, जिस वजह से ग्रिड स्टेशन से कम बिजली की ज़रूरत होगी। इस योजना के माध्यम से सम्पूर्ण देश के साथ साथ सरकार को तथा स्थानीय नागरिको को भी सहायता प्राप्त होगी। ऊर्जा मंत्रालय द्वारा आरम्भ Solar Rooftop Subsidy Scheme के अंतर्गत लगाए जाने वाले सोलर पेनलो के लिए अधिक ज़मीन की भी आवश्यकता नहीं होती है, इसके माध्यम से कार्य बहुत ही आसान हो जाते है जिस वजह से किसी भी ग्राहक को ग्रिड पावर पर निर्भर नहीं रहना पड़ता है। इस योजना के माध्यम से जनरेटर का इस्तेमाल भी कम होगा जिससे पर्यावरण भी प्रदूषण रहित रहेगा।

सोलर रूफटॉप पावर प्लांट का विवरण

क्रमांक  रूफटॉप सोलर पावर प्लांट ”विनिर्देश” के बारे में विवरण
1 रूफटॉप सोलर पावर प्लांट लगाने हेतु जरूरी जगह 100 वर्ग फुट
2 बिना सब्सिडी के रूफटॉप सोलर पावर प्लांट लगाने की लागत 60000 से 70000 तक
3 30% सब्सिडी की कटौती के बाद कितनी राशि का भुगतान करना अनिवार्य होगा 42000 से 49000 तक
4 उत्पादन आधारित प्रोत्साहन का लाभ उठाने हेतु उपभोक्ताओं को कितनी बिजली उत्पन्न करने की ज़रूरत होती है? 1100 किलोवाट से 1500 किलोवाट हर साल
5 इस योजना के तहत उपभोक्ता कितना कमा सकते हैं? करीब 2k से 3k हर साल

Solar Rooftop Subsidy Yojana के लाभ तथा विशेषताएं

  • इस योजना के अंतर्गत लगाए जाने वाले सोलर पैनलों से बहुत सी जमीन की बचत हो जाती है जो बिजली बनाने हेतु जरूरी होती है। इसके अतिरिक्त इससे कार्य को बहुत ही आसान बनाया जाता है, जिससे ग्राहकों को किसी भी कार्य के लिए ग्रिड पावर पर निर्भर नहीं होना पड़ता है
  • ऊर्जा मंत्रालय द्वारा आरंभ इस योजना के अंतर्गत लगने वाले सोलर पैनलों से डीजल के जनरेटर का इस्तेमाल कम हो जाएगा जिससे पर्यावरण सुरक्षित रहेगा।
  • व्यवसायिक संगठनों के लिए सोलर रूफ सिस्टम बहुत अच्छा विकल्प है क्योंकि इसके माध्यम से सबसे ज्यादा बिजली पैदा हो सकती है, जब अधिक बिजली की आवश्यकता होती है तथा सोलर पैनल की लागत ग्रिड से प्राप्त होने वाली बिजली से   बहुत कम होती है।
  • इसके अलावा Solar Rooftop Subsidy Yojana 2022 एकमुश्त निवेश होती है जिसके माध्यम से उपयोगिता व्यय को बहुत हद तक कम किया जा सकता है।
  • सामाजिक संरचनाओं, घरों, उद्योगों आदि में इस सब्सिडी को लागू किया जाता है। इसके अतिरिक्त इसके द्वारा रणनीति व्यवसायो की भी सहायता की जाती है।
  • जब सौर ऊर्जा मंत्रालय द्वारा इस सौर प्रणाली की स्थापना की गई थी, उसके पश्चात से  किसी भी प्रकार की इसके समान चालू लागत नहीं पाई गई है।
  • सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना के माध्यम से नागरिकों के पैसों की बचत होती है वैसे तो अभी इस योजना का कोई उद्देश्य स्पष्ट दिखाई नहीं पड़ता है लेकिन भविष्य में इस योजना का लक्ष्य स्पष्ट हो जाएगा।
  • 6.50/kWh सौर ऊर्जा प्रणाली की मात्र लागत है जो कि मानव बिजली और डीजल जनरेटर की तुलना में बहुत सस्ती होती है।
  • राष्ट्रीय सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत आने वाले 5 सालो में 600 से 5000 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।
  • इस सोलर पैनल कार्यक्रम के माध्यम से कार्बन उत्सर्जन को कम किया जाता है, इसी वजह से ग्लोबल वार्मिंग को भी घटाने में सहायता प्राप्त होती है।

सोलर रूफटॉप सब्सिडी स्कीम के तहत ऑनलाइन आवेदन करे

ऊर्जा मंत्रालय द्वारा आरंभ सोलर रूफटॉप सब्सिडी स्कीम एक सब्सिडी आधारित योजना है, जो भी नागरिक इसके तहत आवेदन करना चाहते है उन्हें आवेदन इस प्रकार करना होगा:-

  • सबसे पहले आपको राष्ट्रीय पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको राज्य का चुनाव करना है उसके बाद आपको उस कंपनी का चुनाव करना होगा जो सौर पैनलों की उपयोगिता सुविधा का वितरण कर रही है।
  • इसके बाद आपको उस उपभोक्ता खाता संख्या का चुनाव करना है, जो उस पते के बिजली बिल से उपभोक्ता खाता संख्या है जिस जगह पर आप छत पैनल को लगवाना चाहते है, इसके बाद आपको अगले के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपको पंजीकरण करने हेतु अपने मोबाइल फोन पर SANDES ऐप QR कोड के एक ऐप को डाउनलोड करना है, इसके पश्चात आपको इसमें मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा, फिर आपके मोबाइल नंबर पर ओटीपी भेजा जाएगा, अब आपको अपने मोबाइल और ईमेल आईडी के ओटीपी की पुष्टि करके पंजीकरण को सहेजना है।
  • पंजीकरण प्रक्रिया पूर्ण होने आपको वेबसाइट के होम पेज पर आना है, वेबसाइट के होम पेज पर आपको लॉगिन के अनुभाग में अपनी उपभोक्ता खाता संख्या और पंजीकृत मोबाइल नंबर को दर्ज कर देना है।
  • आखिर में आपको लॉगिन के विकल्प पर क्लिक कर देंना है, इस प्रक्रिया का पालन करके आप Solar Rooftop Subsidy Scheme के तहत ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

Leave a Comment