Uttar Pradesh Jansunwai: UP Jansunwai Portal, jansunwai.up.nic.in

यूपी जनसुनवाई की पहल उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा की गयी है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गयी इस पहल के माध्यम से कोई भी नागरिक ऑनलाइन शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। हम जानते हैं कि हमारे देश के सरकारी कार्यालय में कोई भी काम करवाने के लिए बहुत समय और कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इस सुविधा के माध्यम से नागरिकों की समस्याओं का जल्द-से-जल्द निवारण किया जायेगा, जिससे राज्य के नागरिकों को किसी भी समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल के बारे में अधिक जानकारी हासिल करने के लिए इस आर्टिकल को शुरू से अंत तक पूरा पढ़ें।

Uttar Pradesh Jansunwai

Table of Contents

Uttar Pradesh Jansunwai

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई के माध्यम से उन नागरिकों की सहायता प्रदान की जाएगी, जिनका सरकारी विभाग से जुड़े काम में कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। राज्य के ऐसे कई सरकारी विभाग हैं, जिसके कारण उत्तर प्रदेश के नागरिकों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इस समस्या के लिए jansunwai.up.nic.in पोर्टल पर आसानी से शिकायत दर्ज कर सकते हैं। जनसुनवाई यूपी के सम्बंधित विभाग द्वारा शिकायत करने वाले नागरिकों की कम-से-कम समय में समस्या का समाधान कर दिया जायेगा। जब तक नागरिकों की शिकायत का समाधान नहीं किया जायेगा, तब-तक नागरिक Jansunwai पोर्टल पर अपनी शिकायत का स्टेटस देख सकते हैं। इस सुविधा को लोगों तक पहुंचाने के लिए सरकार द्वारा मुख्यमंत्री हेल्पलाइन नंबर 1076 को शुरू किया गया है, जिसका उपयोग राज्य का हर एक नागरिक कर पाएगा।

UP Jansunwai Portal

Overview of Uttar Pradesh Jansunwai

योजना का नाम यूपी जनसुनवाई पोर्टल 2022
आरम्भ की गई मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ जी द्वारा
वर्ष 2022
विभाग उत्तर प्रदेश लोक शिकायत विभाग
उद्देश्य उत्तर प्रदेश नागरिकों की विभाग संबंधित परेशानियों को दर्ज करना
आवेदन की तिथि पंजीकरण कर सकते है
लाभ जनसमस्याओं का त्वरित समाधान
आवेदन का प्रकार ऑनलाइन और फोन के माध्यम से
श्रेणी उत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं
अधिकारिक वेबसाइट http://jansunwai.up.nic.in/

यूपी जनसुनवाई का मुख्य उद्देश्य

हम जानते हैं कि हमारे देश में अधिकतर नागरिक सरकारी कार्यालय की गतिविधियों से परेशान रहते हैं। ऐसी स्थिति में नागरिकों को कई परेशानियों का सामने करना पड़ता है जैसे- नागरिकों के समय और धन दोनों की ही हानि होती है। सरकारी विभागों में कुछ लोग ऐसे भी होते हैं, जो नागरिकों को जानबूझकर परेशान करते हैं। इसी समस्या को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा Jansunwai Samadhan की शुरुआत की गयी है। उत्तर प्रदेश जनसुनवाई का मुख्य उद्देश्य यह है कि आम नागरिकों को सरकारी विभागों द्वारा होने वाली समस्याओं से मुक्त कराना है। उत्तर प्रदेश सरकार ने कानून और व्यवस्था बनाए रखने और विभाग से संबंधित समस्याओं को दूर करने के लिए यूपी जनसुनवाई पोर्टल लॉन्च किया है ताकि राज्य के लोगों की शिकायतों को आसानी से हल किया जा सके। इस जनसुनवाई सुविधा का लाभ उत्तर प्रदेश के सभी लोगों तक पहुँचाया जायेगा।

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई प्रवासी मजदूर पंजीकरण

इस ऑनलाइन पोर्टल पर, राज्य सरकार प्रवासी मजदूरों को पंजीकरण करने की सुविधा प्रदान कर रही है, जैसा कि आप जानते हैं कि कोरोना वायरस के कारण पूरा देश बंद हो गया है, जिसके कारण अन्य राज्यों में काम करने वाले लोग फंस गए हैं। यदि वे अन्य राज्यों से उत्तर प्रदेश और अन्य राज्यों से उत्तर प्रदेश में आना चाहते हैं, तो वे इस jansunwai.up.nic.in की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर खुद को पंजीकृत कर सकते हैं।

UP Jansunwai Portal/APP

राज्य के श्रमिक लॉकडाउन होने के कारण दूसरे राज्यों में फंस गए हैं और जो राज्य से बाहर दूसरे राज्यों में जाना चाहते हैं, इसलिए वे जनसुनवाई पोर्टल पर पंजीकरण कर सकते हैं। इस पोर्टल पर पंजीकरण 5 मई को दोपहर से शुरू हो गया है। जनसुनवाई पोर्टल पर किए गए पंजीकरणों को यात्रा परमिट नहीं माना जाएगा। सक्षम स्तर से अनुमति प्राप्त करने पर आवेदक को जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। यह सुविधा मंगलवार 5 मई को जनसुनवाई पोर्टल के एंड्रॉइड ऐप पर भी उपलब्ध होगी।

उत्तर प्रदेश आपराधिक मामलों में देश के अन्य सभी राज्यों से आगे है, सरकार आपराधिक घटनाओं को रोकने के उद्देश्य को पूरा करने  की पूरी कोशिश कर रही है जिसके लिए यूपी सरकार ने जनसुनवाई पोर्टल शुरू किया है। राज्य के लोग इस जनसुनवाई पोर्टल के माध्यम से घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से अपनी शिकायतें ऑनलाइन दर्ज करा सकते हैं। संबंधित विभाग आपकी समस्या का समाधान करेगा और आप समय पर अपनी समस्याओं का समाधान प्राप्त कर सकते हैं और शिकायत की स्थिति भी देख सकते हैं।

UP Jansunwai Statistics

Received references 24990197
Pending references 381241
Disposed references 24608635

यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर स्वीकार न की जाने वाली शिकायतें

  • सूचना का अधिकार से संबंधित मामलों की शिकायतों को स्वीकार नहीं किया जायेगा, यदि व्यक्ति माननीय न्यायालय में विचाराधीन प्रकरण के मामले में शिकायत करता है, तो यह स्वीकार नहीं किया जाएगा।
  • राज्य का कोई भी नागरिक शिकायत के स्थान पर सुझाव देता है, तो ये स्वीकार नहीं किया जायेगा, यदि कोई वित्तीय सहायता या नौकरी की मांग करता है, तो यह भी स्वीकार नहीं किया जायेगा।
  • सरकारी सेवकों के सेवा संबंधी मामले (स्थानांतरण सहित) जब तक उन्होंने विभाग में उपलब्ध विकल्पों का उपयोग नहीं किया।

जनसुनवाई यूपी शिकायतों के प्रकार

उत्तर प्रदेश के नागरिक केवल तीन शिकायतें दर्ज कर सकते हैं, जो हमने नीचे दी हैं, इन शिकायतों को ध्यान से पढ़ें और किसी भी सार्वजनिक सुनवाई को दर्ज करके अपनी शिकायतें दर्ज कर सकते हैं।

  • सरकारी योजनाओं के बारे में जानकारी प्राप्त करना
  • जन शिकायत संबंधित शिकायत
  • और जनता की मांगों से संबंधित शिकायत

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई ऑनलाइन पंजीकरण करने की प्रक्रिया

राज्य के जो इच्छुक नागरिक उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल पर अपनी शिकायत दर्ज करवाना चाहते हैं, तो आपको नीचे दिए गए चरणों का पालन करना होगा-

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश जनसुनवाई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
उत्तर प्रदेश जनसुनवाई
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “Compaint Registration” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके समाने अगला पेज खुल जायेगा।
उत्तर प्रदेश जनसुनवाई ऑनलाइन पंजीकरण करने की प्रक्रिया
  • इस पेज पर आपके सामने एक सहमति पत्र होगा, जिसमे आपको अपनी सहमति दर्ज करके सबमिट बटन पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म खुल जायेगा।
उत्तर प्रदेश जनसुनवाई
  • अब आपको फॉर्म में पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर, कैप्चा कोड दर्ज करके सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके मोबाइल पर OTP प्राप्त हो जायेगा, जिसको निर्धारित स्थान पर दर्ज करके सबमिट बटन पर क्लिक कर देना है। इसके बाद पके सामने आवेदन फॉर्म खुल जायेगा।
उत्तर प्रदेश जनसुनवाई
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण और शिकायत दर्ज करके सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • शिकायत दर्ज होने के बाद आपको शिकायत पंजीकरण संख्या प्राप्त हो जाएगी।

शिकायत की स्थिति जानने की प्रक्रिया

जिन नागरिकों ने यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत दर्ज की है, और वे अपने शिकायत की स्थिति देखना जानना चाहते हैं, तो उनको नीचे दिए गए चरणों का पालन करना होगा-

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश जनसुनवाई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
UP Jansunwai Portal Complaints
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “Track Complaint Status” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके समाने एक फॉर्म खुल जायेगा।
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- मोबाइल नंबर, ई मेल आईडी और कैप्चा कोड दर्ज कर देना है।
  • सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है। इस प्रकार आपके सामने की गयी शिकायत की स्थिति से सम्बंधित जानकारी प्रदर्शित हो जाएगी।

Jansunwai Samadhan Process | यूपी जनसुनवाई शिकायत निवारण

यदि राज्य के किसी नागरिक ने ऑनलाइन शिकायत दर्ज की है, और समय पर कोई कार्यवाही नहीं की गयी है, तो नीचे दिए गए चरणों का पालन करना होगा-

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश जनसुनवाई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “अनुस्मारक भेजें” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके समाने एक फॉर्म खुल जायेगा।
UP Jansunwai Portal Reminder
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- शिकायत संख्या दर्ज कर देना है। सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के बाद आपको खोजें के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद अनुस्मारक भेज सकते हैं। इस प्रकार आपके सामने की जनसुनवाई शिकायत निवारण से सम्बंधित जानकारी प्रदर्शित हो जाएगी।

फीडबैक देने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश जनसुनवाई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “आपकी प्रतिक्रिया” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके समाने एक फॉर्म खुल जायेगा।
UP Jansunwai feedback
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- शिकायत संख्या, मोबाइल नंबर या ई-मेल आईडी, गुणवत्ता स्तर, फीडबैक, कैप्चा कोड दर्ज कर देना है।
  • सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के बाद आपको “ओटीपी प्राप्त करें” के बटन पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके मोबाइल पर ओटीपी प्राप्त हो जायेगा, जिसे निर्धारित स्थान पर दर्ज कर करके सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है।

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई ऐप कैसे डाउनलोड करें?

  • उत्तर प्रदेश जनसुनवाई मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले आपको अपने एंड्राइड मोबाइल के गूगल प्ले स्टोर में जाना है। इसके बाद आपके सामने गूगल प्ले स्टोर का होम पेज खुल जायेगा।
Jansunwai Mobile application
  • होम पेज पर आपको सर्च बार में उत्तर प्रदेश जनसुनवाई ऐप दर्ज कर देना है। इसके बाद आपके सामने उत्तर प्रदेश जनसुनवाई मोबाइल ऐप प्रदर्शित हो जाएगी।
  • इसके बाद आपके सामने इंस्टॉल का बटन प्रदर्शित हो जायेगा। अब आपको इंस्टॉल के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके मोबाइल में उत्तर प्रदेश जनसुनवाई मोबाइल ऐप डाउनलोड हो जायेगा। उत्तर प्रदेश जनसुनवाई मोबाइल ऐप डाउनलोड होने के बाद आप सफलतापूर्वक लॉगिन कर सकते हैं।

अधिकारी लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको ”अधिकारी लॉगिन” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
अधिकारी लॉगिन करने की प्रक्रिया
  • इस पेज पर आपको यूज़र आईडी, पासवर्ड दर्ज करके आपको साइन इन के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इस प्रकार आप अधिकारी लॉगिन कर पाएंगे।

अधिकारियों के लिए मोबाइल ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको यूपी जनसुनवाई पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको ”डाउनलोड” के विकल्प पर क्लिक करना है।  अब आपको ”अधिकारियो के लिए एंड्रॉयड एप्लीकेशन” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
अधिकारियों के लिए मोबाइल ऐप
  • अब आपके सामने ”गूगल प्ले स्टोर” खुल जायेगा। आपको इंस्टॉल के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इस प्रकार आप अधिकारियो के लिए मोबाइल ऐप डाउनलोड कर पाएंगे।

पोर्टल के लिए सुझाव देने की प्रक्रिया 

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको ”पोर्टल हेतु सुझाव” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
सुझाव देने की प्रक्रिया
  • इस पेज पर आपको अपना नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, सुझाव दर्ज कर देना है। अब आपको सुरक्षित करे के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इस प्रकार आप पोर्टल के लिए सुझाव दे पाएंगे।

उत्तर प्रदेश से अन्य राज्य जाने के लिए प्रवासी पंजीकरण 

  • सबसे पहले आपको जनसुनवाई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको ”प्रवासी पंजीकरण” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको एक फॉर्म प्रदर्शित होगा। इस फॉर्म में आपको मोबाइल नंबर,ईमेल आईडी, कैप्चा कोड दर्ज कर देना है।
  • अब आपको ओटीपी भेजे के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके पास ओटीपी आ जायेगा।
  • इसके बाद आपके सामने पंजीकरण फॉर्म खुल जायेगा इस फॉर्म में आपको पूछी गई सभी जानकारी का विवरण दर्ज कर देना है।
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना है इस तरह आप पंजीकरण पुरा कर पाएंगे।

अन्य राज्यों से उत्तर प्रदेश आने के लिए प्रवासी पंजीकरण

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको ”प्रवासी पंजीकरण” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गई जानकारी का विवरण जैसे- मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, कैप्चा कोड आदि दर्ज कर देना है।
  • अब आपको ओटीपी भेजे के विकल्प पर क्लिक करना है। अब आपके पास ओटीपी आएगा और आपके सामने अगले पेज पर रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जायेगा।
  • इसके बाद आपको पंजीकरण फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी का विवरण जैसे- नाम, पता, आधार नंबर आदि दर्जा कर देना है। फिर आपको सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है।

Contact Information 

हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल से जुड़ी सभी ज़रूरी जानकारी प्रदान करने की कोशिश की है। अगर आप अभी किसी प्रकार की जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आप कमेंट के द्वारा पूछ सकते है।

 

Leave a Comment